500 गुना रिटर्न 20रूपये का यह शेयर ₹9,985 पंहुचा, 20 हजार के बना दिये 1 करोड़ रुपए, निवेशकों हो गये मालामाल क्या आपके पास है?

शेयर में निवेश का मतलब कंपनी के कारोबार में निवेश करना है। शेयर बाजार में हमेशा समय तक निवेश करने की सलाह दी जाती है। ‘धैर्य का फल मीठा होता है’ यहाँ कहावत बहुत लागू होती है। एक अच्छा स्टॉक में लंबे समय तक निवेश करने से आपको कई गुना अच्छा रिटर्न मिल सकता हैं। भारत रसायन शेयर इस बात का उमदा उदाहरण हैं कि लंबे समय तक निवेश करके कितना कमाया जा सकता है। पिछले 20 वर्षों में, भारत जानिए किस शेयर ने किया निवेशको को मालामाल का रासायनिक स्टॉक 20 रुपये के स्तर से बढ़कर 9895 रुपये (मल्टीबैगर स्टॉक 2021) हो गया है। इस बीच, स्टॉक 500 गुना बढ़ गया है।

देखा जाए तो भारत रसायन के शेयरों में पिछले छह महीने से दबाव बना हुआ है। पिछले छह महीनों में शेयर ₹12,682 से गिरकर ₹9,985 प्रति शेयर हो गया है। इस बीच, शेयर की कीमत में करीब 20 फीसदी की गिरावट आई है। हालांकि, पिछले एक साल में यह मल्टीबैगर स्टॉक 8,710 से बढ़कर 9,985 रुपये हो गया है। इस बीच, शेयरधारकों को 15 फीसदी का रिटर्न मिला है।

पिछले पांच वर्षों में, भारत केमिकल के शेयर ₹1,910 से ₹9,985 तक बढ़े हैं। इस दौरान शेयर में 425 फीसदी की तेजी आई है।इसी तरह, भारत केमिकल्स का शेयर मूल्य पिछले 10 वर्षों में 110 रुपये प्रति शेयर से बढ़कर 9,985 रुपये हो गया है। इस बीच निवेशकों ने 8,975 फीसदी का रिटर्न देखा है.पिछले 20 वर्षों में, स्टॉक 20 से बढ़कर 9,985 रुपये प्रति शेयर हो गया है। इस बीच, स्टॉक लगभग 500 गुना बढ़ गया है।

निवेशको की हो गई बल्ले बल्ले

भारत केमिकल के शेयरों के रिटर्न हिस्ट्री पर नजर डालें तो छह महीने पहले अगर किसी निवेशक ने इस शेयर में 20,000 रुपये का निवेश किया होता तो आज उसकी कीमत 16,000 रुपये होती। यानी चार हजार रुपये का नुकसान।इसी तरह अगर किसी ने एक साल पहले भारत केमिकल के शेयरों में 20,000 रुपये का निवेश किया होता तो आज उसकी कीमत 23,000 रुपये होती।अगर किसी निवेशक ने पांच साल पहले शेयर में 20,000 रुपये का निवेश किया होता तो आज उसकी कीमत 1.05 लाख रुपये होती।

इसी तरह, शेयर इतिहास में जाये तो अगर किसी निवेशक ने 10 साल पहले इस शेयर में केवल 20,000 रुपये का निवेश किया था, तो आज 20,000 रुपये का मूल्य 15.15 लाख रुपये होगा।इस तरह अगर किसी ने 20 साल पहले भारत केमिकल के शेयरों में 20,000 रुपये का निवेश किया है तो इसकी कीमत 1 करोड़ रुपये है।

अगर आप शेयर बाजार में निवेश करना चाहते है तो अपनी सुजबुझ से निवेश करे या फिर किसी जानकर से सलाह जरुरी ले अन्यथा आपको वित्तीय नुकसान हो सकता है।

शेयर बाजार में पोर्टफोलियो स्टॉक ने मार्केट मे दिया सबसे ज्यादा शानदार रिटर्न, निवेशको को किया मालामाल

share market

शेयर बाजार में गिरावट जानिए किस शेयर ने किया निवेशको को मालामाल चल रही है. वैश्विक मार्केट में चल रहे उठा-पटक ने घरेलु बाजार को भी हिला कर रख दिया है. आज हफ्ते के पहले कारोबारी दिन ही भारतीय शेयर बाजार (Share Market) बड़ी गिरावट के साथ खुला. अमेरिकी केंद्रीय बैंक (US Fed) द्वारा ब्याज दरों (Interest Rates) में आक्रामक रूप से बढ़ोतरी के डर के चलते वैश्विक बाजारों में नकारात्मक रुख है. ऐसे में शेयर बाजार में भी गिरावट का दौर चल रहा है.

जानिए किस शेयर ने किया निवेशको को मालामाल

1057329 petrol

बाजार में गिरावट के बीच भी एक स्टॉक रॉकेट बना हुआ है,और अपने निवेशकों को शानदार रिटर्न दिया है. ये स्टॉक अपने अपर सर्किट पर लगा है. और सबसे खास बात कि यह शेयर राकेश झुनझुनवाला (Rakesh Jhunjhunwala) के पोर्टफोलियो में भी शामिल है.

जानिए कौन सा है ये खास शेयर

market 1 2 sixteen nine

आज शेयर बाजार में उठा-पटक के बावजूद राकेश झुनझुनवाला (Rakesh Jhunjhunwala) के समर्थन वाले डीबी रियल्टी (DB Realty Share) शेयरों ने अपर सर्किट लगाया है. आज डीबी रियल्टी (DB Realty) का शेयर 108 रुपये पर खुला और 5 फीसदी बढ़कर 113.15 के अपने अपर सर्किट पर पहुंच गया. दरअसल, इससे पहले शुक्रवार को डीबी रियल्टी ने अपनी सहायक कंपनी डीबी मैन को पूरी तरह से अधिग्रहण करने के बारे में भारतीय शेयर बाजार में जानकारी दी थी, जिसमें कंपनी के पास पहले से ही 91 प्रतिशत हिस्सेदारी थी. इसके बाद डीबी मैन डीबी रियल्टी की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी है. कंपनी के लिए ये ऐलान बहुत ही कारगर साबित हुआ है.

राकेश झुनझुनवाला की हिस्सेदारी

799079 share market red

अब बात करते हैं राकेश झुनझुनवाला के शेयर की. अप्रैल से जून 2022 की अवधि के लिए डीबी रियल्टी शेयरधारिता पैटर्न के अनुसार, इसमें राकेश झुनझुनवाला (Rakesh Jhunjhunwala) ने अपनी पत्नी रेखा झुनझुनवाला के नाम से निवेश किया था. जून तिमाही में शेयरधारिता पैटर्न में रेखा झुनझुनवाला के पास कंपनी के 50 लाख शेयर या कंपनी में 1.73 फीसदी हिस्सेदारी थी. इतना ही नहीं, राकेश झुनझुनवाला ने इस कंपनी में अपनी हिस्सेदारी स्थिर रखी थी.

Actress Nithya Menon Pregnant : बिना शादी हुए ही प्रेग्नेंट हो गई ये मशहूर एक्ट्रेस! सोशल मीडिया पर शेयर की तस्वीर, जानें सच्चाई

जिसके बाद अब खबर आ रही है कि साउथ फिल्म इंडस्ट्री की जानी मानी एक्ट्रेस नित्या मेनन ने अपने इंस्टाग्राम पर अपनी कुछ फोटो शेयर करके अपने फैंस को चौंका दिया है। दरअसल, एक्ट्रेस ने अपने इंस्टाग्राम पर अपनी एक फोटो शेयर की है जिसमें वो ‘बेबी बंप’ में नजर आ रही है। फोटों को देखने के बाद उनके फैंस हैरान हो गए है।

क्योंकि एक्ट्रेस अभी तक शादी नहीं की है। फैंस के मन में ये सवाल उठ रहे है कि एक्ट्रेस बिना शादी के कैसे बेबी? एक्ट्रेस ने अपना फोटो शेयर कर प्रेग्नेंसी का सच बताया है।
दरअसल, निथ्या जल्द ही अंजलि मेनन के निर्देशन में बनी फिल्म ‘वंडर वुमन’ में नजर आने वाली हैं। उस फिल्म में निथ्या का ये किरदार की जिसकी तस्वीरें एक्ट्रेस ने अपने इंस्टाग्राम पर साझा की है। साथ ही निथ्या ने अपने पोस्ट में भी फिल्म का और अपने किरदार को लेकर नोट लिखा है, जिसमें एक्ट्रेस लिखती हैं ‘नोरा! प्रेग्नेंसी कभी भी क्यूट नहीं लगी…’।

आगे पोस्ट में एक्ट्रेस ने लिखा है कि नोरा का किरदार निभाकर मुझे बहुत अच्छा लगा और बहुत मजा आया। आपको बता दें कि वो असल में प्रेग्नेंट नहीं है। साथ ही उनके फैंस भी पोस्ट पर कमेंट्स कर रहे हैं और उनकी फिल्म के रिलीज होने का वेट कर रहे हैं। हाल में फिल्म का टीजर जारी किया गया था।

34 रुपये वाला शेयर हुआ 130 रुपये का, एक साल में दिया 250 फीसदी से ज्यादा रिटर्न, क्या आपके पास है ये Stock?

इस साल कई ऐसे मल्टीबैगर स्टॉक हैं जिन्होंने निवेशको मालामाल कर दिया है

Multibagger Stock Tips: इस साल कई ऐसे मल्टीबैगर स्टॉक हैं जिन्होंने निवेशको मालामाल कर दिया है. इन शेयर ने 1 साल में ही . अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated : November 03, 2021, 14:10 IST

नई दिल्ली. इस साल कई ऐसे मल्टीबैगर स्टॉक (Multibagger Stock) हैं जिन्होंने निवेशकोंं मालामाल कर दिया है. इन शेयर ने 1 साल में ही मोटा रिटर्न दिया है. हम बात कर रहे हैं स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड-सेल (Shares of Steel Authority of India Ltd- SAIL) के शेयर की. पिछले एक साल में इस शेयर की कीमत 34 रुपये से बढ़कर 130.35 रुपये हो गई. इस अवधि में लगभग 283 प्रतिशत का रिटर्न दिया है.

डोमेस्टिक स्टील दिग्गज द्वारा सितंबर 2021 को समाप्त तिमाही के लिए अपनी कमाई की सूचना देने के बाद यह बढ़त देखी गई. बीएसई पर आज यह शेयर 122.20 पर ट्रेड कर रह है.

पिछले 1 साल में दिया 250 फीसदी का रिटर्न
इस लार्ज-कैप स्टॉक ने पिछले 12 महीनों में अपने शेयरधारकों को 250 फीसदी से अधिक रिटर्न दिया है. पिछले एक साल में, शेयर की कीमत 34 रुपये से बढ़कर 130.35 रुपये हो गई. इस अवधि में लगभग 283 प्रतिशत का रिटर्न दिया है. 51,000 करोड़ रुपये से अधिक के बाजार पूंजीकरण के साथ, शेयर 5-दिन, 10-दिन, 20-दिन, 50-दिन, 100-दिन और 200-दिवसीय मूविंग एवरेज से अधिक है.

जुलाई-सितंबर तिमाही में कंपनी को हुआ मुनाफा
कंपनी ने जुलाई-सितंबर तिमाही में 4,338.75 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ दर्ज किया, जो साल-दर-साल आधार पर 10 गुना से अधिक की छलांग है. एक साल पहले की अवधि में लाभ 436.52 करोड़ रुपये था. कंपनी की कुल आय सालाना आधार पर 58 फीसदी बढ़कर 27,007 करोड़ रुपये हो गई.

जानिए कंपनी के बार में
सेल भारत में सबसे बड़ी स्टील बनाने वाली कंपनियों में से एक है. यह महारत्न कंपनी सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों में से एक है. यह पांच एकीकृत संयंत्रों और तीन विशेष इस्पात संयंत्रों में लोहा और इस्पात का उत्पादन करती है, जो मुख्य रूप से भारत के पूर्वी और मध्य क्षेत्रों में स्थित हैं और कच्चे माल के घरेलू स्रोतों के करीब स्थित हैं.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

जब शेयर मार्केट गिरता है तो कहां जाता है आपका पैसा? यहां समझिए इसका गणित

Share market: जब शेयर मार्केट डाउन होता है, तो निवेशकों का पैसा डूबकर किसके पास जाता है? क्या निवेशकों के नुकसान से किसी को मुनाफा होता है. आइए इसका जवाब जानिए किस शेयर ने किया निवेशको को मालामाल बताते हैं.

  • शेयर मार्केट डिमांड और सप्लाई के फॉर्मूले पर काम करता है
  • अगर कंपनी अच्छा परफॉर्म करेगी तो उसके शेयर के दाम बढ़ेंगे
  • राजनीतिक घटनाओं का भी शेयर मार्केट पर पड़ता है असर

alt

5

alt

5

alt

5

alt

5

जब शेयर मार्केट गिरता है तो कहां जाता है आपका पैसा? यहां समझिए इसका गणित

नई दिल्ली: आपने शेयर मार्केट (Share Market) से जुड़ी तमाम खबरें सुनी होंगी. जिसमें शेयर मार्केट में गिरावट और बढ़त जैसी खबरें आम हैं. लेकिन कभी आपने सोचा है कि जब शेयर मार्केट डाउन होता है, तो निवेशकों का पैसा डूबकर किसके पास जाता है? क्या निवेशकों के नुकसान से किसी को मुनाफा होता है. इस सवाल का जवाब है नहीं. आपको बता दें कि शेयर मार्केट में डूबा हुआ पैसा गायब हो जाता है. आइए इसको समझाते हैं.

कंपनी के भविष्य को परख कर करते हैं निवेश

आपको पता होगा कि कंपनी शेयर मार्केट में उतरती हैं. इन कंपनियों के शेयरों पर निवेशक पैसा लगाते हैं. कंपनी के भविष्य को परख कर ही निवेशक और विश्लेषक शेयरों में निवेश करते हैं. जब कोई कंपनी अच्छा प्रदर्शन करती है, तो उसके शेयरों को लोग ज्यादा खरीदते हैं और उसकी डिमांड बढ़ जाती है. ऐसे ही जब किसी कंपनी के बारे में ये अनुमान लगाया जाए कि भविष्य में उसका मुनाफा कम होगा, तो कंपनी के शेयर गिर जाते हैं.

डिमांड और सप्लाई के फॉर्मूले पर काम करता है शेयर

शेयर मार्केट डिमांड और सप्लाई के फॉर्मूले पर काम करता है. लिहाजा दोनों ही परिस्‍थितियों में शेयरों का मूल्‍य घटता या बढ़ता जाता है. इस बात को ऐसे लसमझिए कि किसी कंपनी का शेयर आज 100 रुपये का है, लेकिन कल ये घट कर 80 रुपये का हो गया. ऐसे में निवेशक को सीधे तौर पर घाटा हुआ. वहीं जिसने 80 रुपये में शेयर खरीदा उसको भी कोई फायदा नहीं हुआ. लेकिन अगर फिर से ये शेयर 100 रुपये का हो जाता है, तब दूसरे निवेशक को फायदा होगा.

कैसे काम करता है शेयर बाजार

मान लीजिए किसी के पास एक अच्छा बिजनेस आइडिया है. लेकिन उसे जमीन पर उतारने के लिए पैसा नहीं है. वो किसी निवेशक के पास गया लेकिन बात नहीं बनी और ज्यादा पैसे की जानिए किस शेयर ने किया निवेशको को मालामाल जरूरत है. ऐसे में एक कंपनी बनाई जाएगी. वो कंपनी सेबी से संपर्क कर शेयर बाजार में उतरने की बात करती है. कागजी कार्रवाई पूरा करती है और फिर शेयर बाजार का खेल शुरू होता है. शेयर बाजार में आने के लिए नई जानिए किस शेयर ने किया निवेशको को मालामाल कंपनी होना जरूरी नहीं है. पुरानी कंपनियां भी शेयर बाजार में आ सकती हैं.

शेयर का मतलब हिस्सा है. इसका मतलब जो कंपनियां शेयर बाजार या स्टॉक मार्केट में लिस्टेड होती हैं उनकी हिस्सेदारी बंटी रहती है. स्टॉक मार्केट में आने के लिए सेबी, बीएसई और एनएसई (नेशनल स्टॉक एक्सचेंज) में रजिस्टर करवाना होता है. जिस कंपनी में कोई भी निवेशक शेयर खरीदता है वो उस कंपनी में हिस्सेदार हो जाता है. ये हिस्सेदारी खरीदे गए शेयरों की संख्या पर निर्भर करती है. शेयर खरीदने और बेचने का काम ब्रोकर्स यानी दलाल करते हैं. कंपनी और शेयरधारकों के बीच सबसे जरूरी कड़ी का काम ब्रोकर्स ही करते हैं.

निफ्टी और सेंसेक्स कैसे तय होते हैं?

इन दोनों सूचकाकों को तय करने वाला सबसे बड़ा फैक्टर है कंपनी का प्रदर्शन. अगर कंपनी अच्छा परफॉर्म करेगी तो लोग उसके शेयर खरीदना चाहेंगे और शेयर की मांग बढ़ने से उसके दाम बढ़ेंगे. अगर कंपनी का प्रदर्शन खराब रहेगा तो लोग शेयर बेचना शुरू कर देंगे और शेयर की कीमतें गिरने लगती हैं.

इसके अलावा कई दूसरी चीजें हैं जिनसे निफ्टी और सेंसेक्स पर असर पड़ता है. मसलन भारत जैसे कृषि प्रधान देश में बारिश अच्छी या खराब होने का असर भी शेयर मार्केट पर पड़ता है. खराब बारिश से बाजार में पैसा कम आएगा और मांग घटेगी. ऐसे में शेयर बाजार भी गिरता है. हर राजनीतिक घटना का असर भी शेयर बाजार पर पड़ता है. चीन और अमेरिका के कारोबारी युद्ध से लेकर ईरान-अमेरिका तनाव का असर भी शेयर बाजार पर पड़ता है. इन सब चीजों से व्यापार प्रभावित होते हैं.

रेटिंग: 4.43
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 626