शेयर बाजार निवेश शुरू करने के लिए 7 बेस्ट डिस्काउंट ब्रोकर यहाँ जाने खास बातें

शेयर बाजार मे निवेश शुरू करने के लिए किसी एक स्टॉक ब्रोकर के साथ डीमैट और ट्रेडिंग खाता होना जरुरी है। 2010 तक सभी नए डीमैट और त्रिदंग खाते फुल सेवा स्टॉक ब्रोकर भारत में ब्रोकरेज चार्ज की पूरी जानकारी के साथ खोले जाते थे। लेकिन इसके बाद भारत मे डिस्काउंट ब्रोकर की सेवा शुरू हुई और इसके बाद डिस्काउंट ब्रोकर का लाभ देखते हुए ज्यादातर डीमैट और ट्रेडिंग खाते डिस्काउंट ब्रोकर के जरिये खोले जाने लगे है। डिस्काउंट ब्रोकर के कम ब्रोकरेज शुल्क के कारन शेयर खरीदने का खर्चा कम हो गया है। डिस्काउंट ब्रोकर की लोकप्रियता देखकर देश मे इस समय 50 से ज्यादा डिस्काउंट ब्रोकर है नया निवेशक डिस्काउंट ब्रोकर के जरिये खाता खोलने की सोचता है लेकिन अलग अलग ऑफर और ब्रोकरेज शुल्क के कारन किसे चुने इस दुविधा मे रहता है इस आर्टिकल के जरिये भारत के 8 बेस्ट Discount Broker के बारे मे जान सकेंगे जो अच्छी सेवा के साथ साथ कम ब्रोकरेज शुल्क लेते है।

Stock Market Charges kya hai aur kitne Lagte hai?

stock market charges kya hai?

Gaurav Popat एक निवेशक, ट्रेडर और ब्लॉगर है, जो की शेयर बाज़ार मे बहुत रुचि रखता है। वह साल 2015 से शेयर बाज़ार मे है। पिछले 7 साल मे खुद अलग अलग जगह से सीख कर और अनुभव के आधार पर शेयर बाज़ार और निवेश के विषय मे यहा पर जानकारी देता है।

बड़ौदा ई-ट्रेड 3 इन 1 खाता

बैंक ऑफ बड़ौदा के साथ बाधारहित और सुरक्षित ट्रेडिंग अनुभव के लिए सिंक्रोनाइज्ड बैंक, डीमैट एवं ट्रेडिंग खाता खोले. डिजीटल खाता खोलने की प्रक्रिया 100% पेपर रहित. प्रतिस्पर्द्धी ब्रोकरेज दरें, ट्रेडिंग खाते के लिए कोई वार्षिक अनुरक्षण शुल्क (एएमसी) नहीं, पहले वर्ष डीमैट खाते हेतु एएमसी में छूट.
प्रमाणित और अनुभवी रिलेशनशिप मैनेजर विशेष तौर पर आपके लिए बनाई गई विशेषीकृत ट्रेडिंग और निवेश नीति बनाने में सहायता करेंगे.

बड़ौदा ई-ट्रेड 3 इन 1 खाता : विशेषताएं

बड़ौदा ई-ट्रेड 3 इन 1 खाता : ट्रेड का माध्यम

बड़ौदा ई-ट्रेड मोबाइल एप्लिकेशन

ऐप स्टोर और गूगल प्लेस्टोर में 4+ रेटिंग

बड़ौदा ई-ट्रेड वेबसाइट

आसान और स्मार्ट ट्रेडिंग हेतु

बड़ौदा ई-ट्रेड – प्रो डेस्कटॉप ट्रेडिंग ऐप्लीकेशन

प्रोफेशनल ट्रेडर्स हेतु त्वरित प्लेटफॉर्म

बड़ौदा ई-ट्रेड 3 इन 1 खाता : डिस्क्लेमर

प्रतिभूति बाजार में निवेश बाजार जोखिमों के अधीन है, निवेश से पहले सभी संबंधित दस्तावेजों को ध्यानपूर्वक पढ़ें.

बॉब कैपिटल मार्केट्स लिमिटेड, बैंक ऑफ़ बड़ौदा की पूर्ण स्वामित्त्व वाली अनुषंगी

सदस्य: नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ऑफ़ इंडिया एवं बीएसई लिमिटेड.

एनएसई सदस्य कोड:13045 / बीएसई क्लीयरिंग संख्या : 3258

पंजीकृत कार्यालय:

बॉब कैपिटल मार्केट्स लिमिटेड,
1704, बी विंग, 17 वां तल, पारिनी क्रीसेंजो,
जी ब्लॉक, बांद्रा कुर्ला कॉम्प्लेक्स, बांद्रा (पूर्व),
मुंबई – 400051. टेली: 022-6138 9300 भारत में ब्रोकरेज चार्ज की पूरी जानकारी
Tel: 022-6138 9300

सेबी सिंगल रजिस्ट्रेशन प्रमाणपत्र - INZ000159332 दिनांक 20 नवंबर 2017.

सेबी (रिसर्च एनालिस्ट्स) विनियमन, 2014, पंजीकरण सं.: INH000000040 03 फरवरी 2020 तक वैध

भौतिक पावर ऑफ़ अटर्नी के प्रस्तुतीकरण पर खाता खोलने की प्रक्रिया पूरी होगी. प्रमाणीकरण के लिए ओटीपी आधारित आधार ई-साइन के उपयोग पर प्रतिबंध होने के कारण, ऑनलाइन आवेदन पत्र के सभी पृष्ठों को मुद्रित कराना होगा और ग्राहक को इस पर भौतिक रूप से हस्ताक्षर करके बॉब कैप्स में जमा करना होगा. बैंक ऑफ़ बड़ौदा डीमैट खाते हेतु प्रत्यक्ष सत्यापन (आईपीवी) ट्रेडिंग खाते के लिए भी मान्य होगा. प्रथम वर्ष डीमैट खाते पर कोई वार्षिक रखरखाव प्रभार नहीं लिए जाएंगे.

बाजार अवधि सोमवार से शुक्रवार प्रातः 9:15 बजे से अपराह्न 3:30 बजे तक है.

बाजार अवधि के पश्चात (एएमओ) अगले दिन रात्रि 8 बजे से प्रात: 8 बजे तक आदेश दिए जा सकते हैं. एएमओ आदेश सुबह 9.15 बजे मार्केट में हिट होगा.

पूरी हो रिसर्च ऑनलाइन

भारत में ऑनलाइन प्रॉपर्टी खरीदने का ट्रेंड बढ़ रहा है। 2014 में टाटा हाउसिंग के नैशनल होम बाइंग अभियान के तहत 200 से ज्यादा हाउसिंग यूनिट्स के लिए.

भारत में ऑनलाइन प्रॉपर्टी खरीदने का ट्रेंड बढ़ रहा है। 2014 में टाटा हाउसिंग के नैशनल होम बाइंग अभियान के तहत 200 से ज्यादा हाउसिंग यूनिट्स के लिए 800 से भी ज्यादा ऑनलाइन आवेदन आए। अब तक कंपनी तकरीबन 1,500 अपार्टमेंट्स यानी 10 लाख स्क्वेयर फीट स्पेस ऑनलाइन बेच चुकी है। पुणे की कंपनी कोल्टे-पाटिल डिवेलपर्स ने हाल में होम बाइंग फेस्टिवल के जरिये 200 घरों की ऑनलाइन बिक्री की। क्या आप भी ऑनलाइन प्रॉपर्टी खरीदने की सोच रहे हैं? हम यहां आपको ऑनलाइन प्रॉपर्टी खरीदने के तमाम पहलुओं के बारे में बता रहे हैं।

बायर्स और सेलर्स

टीयर-2 और टीयर-3 शहरों में ऑनलाइन सेल्स बढ़ रही है। टाटा हाउसिंग डिवेलपमेंट के एमडी और सीईओ ब्रोतिन बनर्जी ने बताया, 'दिसंबर-जनवरी में ऑनलाइन प्रॉपर्टी की सेल्स में 11 फीसदी की ग्रोथ रही, जबकि जनवरी-अक्टूबर 2014 में यह बढ़कर 30 फीसदी हो गई। प्रॉपर्टी बायर्स खास तौर पर पटना, चंडीगढ़, रांची, इंदौर, मेंगलुरु, मैसूर, कोयंबटूर, त्रिची, भुवनेश्वर और लेह जैसे शहरों के हैं।' ज्यादा से ज्यादा खरीदार सायबर सेल रूट का विकल्प चुन रहे हैं।

गोदरेज प्रॉपर्टीज, महिंद्रा लाइफस्पेस और आशियाना जैसी कंपनियां ऑनलाइन सेल्स में मौजूदगी दर्ज करा चुकी हैं। Magicbricks.com, 99acres.com और Makaan.com जैसे थर्ड पार्टी पोर्टल्स भी प्रॉपर्टी रिसर्च और इसकी खरीदारी के लिए काफी पॉप्युलर हो रहे भारत में ब्रोकरेज चार्ज की पूरी जानकारी हैं।

जब बिल्डर्स किसी ई-कॉमर्स कंपनी के जरिये रेजिडेंशल प्रॉपर्टी की लिस्टिंग करते हैं, तो वे वॉल्यूम पर 2-3 फीसदी का कमीशन देते हैं। एक्सपर्ट्स के मुताबिक, ज्यादातर डिवेलपर्स दावा करते हैं कि ब्रोकरेज का बोझ कस्टमर्स पर नहीं डाला जाता है, लेकिन कुछ मामले में चार्ज प्रॉपर्टी प्राइस में शामिल हो सकता है।

लिहाजा, ऑनलाइन प्रॉपर्टी खरीदने पर हमेशा यह जरूरी नहीं है कि आप पूरी ब्रोकरेज फीस बचा लेंगे। साथ ही, ऑनलाइन खरीदारी के तहत पहले 20,000 से 30,000 रुपये बुकिंग फीस के तौर पर जमा करनी होती है।

अगर एक निश्चित अवधि (4-6 हफ्ते) में आपका मन बदल जाता है, तो डिवेलपर्स आमतौर पर यह फीस लौटा देते हैं। हालांकि, सभी बिल्डर्स फीस नहीं लौटाते। लिहाजा, जल्दबाजी में लिया गया फैसला आपके लिए महंगा पड़ सकता है।

इंडस्ट्री एक्सपर्ट्स के मुताबिक, डिस्काउंट ऑफर में भी खरीदारों को सावधानी बरतने की जरूरत है। एक्सपर्ट्स इस बात पर जोर देते हुए कहते हैं कि, 'खरीदार को हमेशा पहले प्रॉपर्टी से जुड़ी जगह पर जाकर चीजों की पड़ताल करनी चाहिए।' यह एक बेहतर निर्णय हो सकता है। इससे आगे आने वाली परेशानी से बचा जा

क्यों बढ़ रही है दिलचस्पी?

ऑनलाइन रिटेल शॉपिंग खासतौर पर उन लोगों के लिए आसान जरिया है, जो अपने शहर से बाहर प्रॉपर्टी खरीदना चाहते हैं। वे पोर्टल्स से सभी तरह की जानकारी जुटा कर फैसला लेने से पहले इसके जरिये 'वर्चुअल टूर' कर सकते हैं। अगर कस्टमर को किसी तरह का संदेह है, तो वे डिवेलपर के कस्टमर केयर एग्जिक्युटिव से भारत में ब्रोकरेज चार्ज की पूरी जानकारी बात कर इसका निवारण कर सकते हैं। प्रॉपर्टी की ऑनलाइन खरीद में आपका सीधा संपर्क डिवेलपर से होता है और इसमें आपको किसी तरह का ब्रोकरेज चार्ज भी नहीं देना पड़ता है।

रियल एस्टेट भारत में ब्रोकरेज चार्ज की पूरी जानकारी कंसल्टेंसी फर्म पॉजीव्यू के विनीत देव का कहना है कि ऑनलाइन उपलब्धता से खरीदारों को प्री-लॉन्च डिस्काउंट जैसी बेहतर डील मिलने में भी सहूलियत होती है।

फीचर आर्टिकल: 100 रुपए जैसी छोटी रकम से भी कर सकते हैं क्रिप्टोकरेंसी में निवेश

पिछले कुछ वर्षों से दुनियाभर में क्रिप्टोकरेंसी में निवेश को लेकर लोगों का रुझान बढ़ा है। बिटकॉइन जैसी क्रिप्टोकरेंसी ने लोगों को हजारों गुना तक रिटर्न दिया है। भारत में भी क्रिप्टोकरेंसी में निवेश को लेकर जागरूकता बढ़ रही है। हालांकि बिटकॉइन और अन्य क्रिप्टोकरेंसियों के दाम हजारों डॉलर में होने की वजह से लोग इन्हें खरीदने में हिचकते हैं, क्रिप्टोकरेंसी में निवेश करने के लिए आपके पास लाखों रुपए होना जरूरी नहीं है, कॉइनस्विच कुबेर पर महज 100 रुपए जितनी कम राशि के माध्यम से भी क्रिप्टोकरेंसी में निवेश किया जा सकता है।

क्रिप्टोकरेंसी क्या होती है?

हमारा रुपया या अमेरिकन डॉलर या ब्रिटिश पाउंड एक कागजी नोट या सिक्कों वाली मुद्रा है, लेकिन क्रिप्टोकरेंसी एक डिजिटल मुद्रा है। क्रिप्टोकरेंसी का मूल्य तो होता है लेकिन इसे देखा और छुआ नहीं जा सकता। यह आधुनिक समय की डिजिटल करेंसी है जिसका लेन-देन ऑनलाइन ही किया जा सकता है। यह मुद्रा इनक्रिप्टेड, यानी कोडेड होती है, इसलिए इन्हें क्रिप्टोकरेंसी कहते हैं। करेंसी के जानकारों का कहना है कि क्रिप्टोकरेंसी भविष्य की मुद्रा है। दुनियाभर में क्रिप्टो, यानी डिजिटल करेंसी की स्वीकार्यता बढ़ती जा रही है।

क्रिप्टोकरेंसी में कैसे होता है व्यापार और लेनदेन?

पूरी दुनिया में 110 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा की क्रिप्टोकरेंसी का व्यापार एक्सचेंज यानी विनिमय संस्था के माध्यम से हो रहा है। क्रिप्टोकरेंसी की ख़रीद-बिक्री के लिए भारत में इस समय 19 क्रिप्टो एक्सचेंज मार्केट हैं, जिनमें कॉइनस्विच कुबेर एक प्रमुख प्लेटफार्म है। यह भारत का भारत में ब्रोकरेज चार्ज की पूरी जानकारी सबसे बड़ा और भरोसेमंद ट्रेडिंग प्लेटफार्म है। 1 करोड़ से भी ज्यादा भारतीय इसके जरिए क्रिप्टोकरेंसी में लेनदेन करते हैं।

क्रिप्टो करेंसी में निवेश है एकदम आसान

बिटकॉइन, ईथर या अन्य क्रिप्टोकरेंसी में निवेश के लिए आपको एलन मस्क के स्तर का अरबपति होने की जरूरत नहीं है, बल्कि आप छोटी सी रकम से भी निवेश की शुरुआत कर सकते हैं। यह शेयर, गोल्ड, रियल एस्टेट जैसे किसी भी माध्यम में निवेश करने जितना ही सरल और उससे कहीं ज्यादा सुरक्षित है। बस आपको कॉइनस्विच कुबेर ऐप डाउनलोड करना है और कुछ जरूरी निर्देशों और आवश्यकताओं का पालन करना है भारत में ब्रोकरेज चार्ज की पूरी जानकारी भारत में ब्रोकरेज चार्ज की पूरी जानकारी और आप भी कॉइनस्विच कुबेर के जरिए क्रिप्टोकरेंसी में निवेश कर सकते हैं। भारत के 60 लाख से ज्यादा यूजर कॉइनस्विच कुबेर ऐप डाउनलोड कर चुके हैं और इनकी संख्या लगातार बढ़ती जा रही है।

कॉइनस्विच कुबेर पर क्यों है लोगों का भरोसा?

छोटी रकम से भी कर सकते हैं शुरुआत- कॉइनस्विच पर आप 100 रुपए जैसी छोटी रकम से भी क्रिप्टोकरेंसी में निवेश की शुरुआत कर सकते हैं।

एक क्लिक पर इंस्टेंट ट्रेडिंग- कॉइनस्विच कुबेर पर 100 से भी ज्यादा क्रिप्टोकरेंसीज में एक क्लिक के जरिए खरीद, बिक्री और ट्रेडिंग कर सकते हैं।

कोई लॉक इन पीरियड नहीं- कॉइनस्विच कुबेर में कोई लॉकइन पीरियड नहीं है, आप जब चाहे तुरंत विथड्रॉ कर सकते हैं।

जीरो ब्रोकरेज- कॉइनस्विच कुबेर में क्रिप्टोकरेंसी की खरीद-बिक्री करने के लिए जीरो ब्रोकरेज चार्ज है।

बेस्ट प्राइस- कॉइनस्विच कुबेर आपको सर्वोत्तम कीमतों पर क्रिप्टोकरेंसी में ट्रेज करने की सुविधा प्रदान करता है।

भरोसा- भारत के इस सबसे बड़े ट्रेडिंग प्लेटफार्म पर क्रिप्टोकरेंसी में ट्रेड करने के लिए 1 करोड़ से भी ज्यादा लोग भरोसा करते हैं।

रेटिंग: 4.42
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 648